किसान नेता राकेश टिकैत ने साधा निशाना, बोले- 26 जनवरी को सब निपटा ही दिया था लेकिन…

राकेश टिकैत ने गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उस दिन (26 जनवरी के दिन) सब निपटा दिया था लेकिन ये तो ऊपर वाले की मेहरबानी है कि लोग फिर से जुड़ गए.

-Farmer leader Rakesh Tikait shrugged off the target- तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ ढ़ाई महीने से भी ज्यादा समय से दिल्ली-हरियाणा के बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन लगातार जारी है. इसी बीच राकेश टिकैत ने गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उस दिन (26 जनवरी के दिन) सब निपटा दिया था लेकिन ये तो ऊपर वाले की मेहरबानी है कि लोग फिर से जुड़ गए. साथ ही उन्होंने कहा कि एक धार्मिक झंडा लाल किले पर लगवा कर पूरा देश ही बर्बाद कर दिया था. ऐसी नफरत फैला दी थी कि सरदार बहुत ही खराब कौम है. उसके साथ कहने लगे कि ये किसान भी खराब हैं. उन्होंने कहा कि सीधा पगड़ी पर हमला किया था. कुछ नहीं बचा था.

राकेश टिकैत ने कहा कि अभी जवान और किसान ने कानून वापसी का नारा लगाया है. हमने गद्दी वापसी का नारा नहीं लगाया. उन्होंने कहा, सरकार आप बनाते रहो, चलाते रहो, जो करना है करो. आप हमारे काम करते रहो. सरकार किसी की भी हो, हम सरकार से किसानों के लिए पॉलिसी पर बात करेंगे.

किसानों ने पुलवामा के शहीदों को दी श्रद्धांजलि
राकेश टिकेत ने कैंडल मार्च कर पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी. उन्होंने ट्वीट कर कहा, पानीपत टोल प्लाजा पर कैंडल मार्च कर पुलवामा हमले में शहीद हुए सभी मां भारती के लाल अमर वीर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित किया.

ग़ाज़ीपुर बॉर्डर पर भी निकाला गया कैंडल मार्च
ग़ाज़ीपुर बॉर्डर पर आज शाम सात बजे पुलवामा में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए कैंडल मार्च निकाली गई. इस कैंडल मार्च में शामिल होने के लिए कुछ छात्र संगठन भी पुहंचे. इसमें भारी मात्रा में लोगों ने हिस्सा लिया.-Farmer leader Rakesh Tikait shrugged off the target-

वरुण धवन ने Valentine’s Day पर पोस्ट की पत्नी नताशा की ये तस्वीर, पोस्ट में लिखी खास बात

TMC-कांग्रेस और लेफ्ट मिलकर लड़े चुनाव तो भी BJP की होगी जीत: दिलीप घोष