हम लिखने जा रहे है भारत के विकास की अगली कहानी: तमिलनाडु में बोले राजनाथ सिंह

राजनाथ सिंह ने कहा कि कोविड-19 के बाद हम भारत के विकास की अगली कहानी लिखने जा रहे हैं, मंच से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विपक्षी दलों पर भी निशाना साधा.

-We are going to write the next story of India’s development: Rajnath Singh said in Tamil Nadu- तमिलनाडू के आगामी विधानसभा को लेकर देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज यानी रविवार को तमिलनाडु के दौरे पर हैं. जहां सेलम में एक चुनावी रैली को संबोधित किया. इस दौरान राजनाथ ने केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाई साथ ही कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए सरकार की नीतियों की तारीफ की. उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बाद हम भारत के विकास की अगली कहानी लिखने जा रहे हैं. मंच से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विपक्षी दलों पर भी निशाना साधा.

राजनाथ सिंह ने कहा, हमने केवल कोरोना पर ही काबू पाने में सफलता नहीं पाई है. बल्कि इसकी मेक इन इंडिया वैक्सीन बनाने में भी सफलता पाई है. इसका इस्तेमाल हम केवल देश में ही नहीं कर रहे हैं, बल्कि दूसरे देशों को अपनी वैक्सीनी देकर उनकी मदद भी कर रहे हैं. अपने भाषण में राजनाथ सिंह ने अन्तर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के हवाले से आने वाले दिनों में भारतीय अर्थव्यवस्था के तेजी से बढ़ने का भी दावा किया है.

उन्होंने कहा, कोरोना महामारी के कारण भारत की अर्थव्यवस्था पर भी बुरा असर पड़ा था. लेकिन हमारी सरकार ने ऐसा काम किया है कि अब अन्तर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने भी कहा है कि 2021-22 में भारत की जीडीपी 11 फीसदी से भी ज्यादा होगी. राजनाथ ने आगे कहा, गांव की अर्थव्यवस्था को विकसित बनाने के लिए हम गांव में पक्की सड़के बनाने का काम तेजी से कर रहे हैं. किसान सम्मान निधि के अंतर्गत किसानों के खाते में हर साल 6,000 रुपये डालने का काम हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया हैं. गांव और शहरी इंफ्रास्ट्रक्चर पर हम 100 लाख करोड़ रुपये खर्च करने जा रहे हैं. मैं अपने तमिलनाडु के दोस्तों को जानकारी देना चाहता हूं कि सेलम चेन्नई एक्सप्रेसवे के निर्माण की बोली 2021-22 में शुरू होने वाली है.-We are going to write the next story of India’s development: Rajnath Singh said in Tamil Nadu-

कचरा बीनने वाले भाइयों की सिंगिंग ने आनंद महिंद्रा को किया इंप्रेस, Video शेयर कर कही ये बात

नीति आयोग की बैठक में किसी भी मुख्यमंत्री ने नहीं की कृषि कानूनों पर चर्चा: राजीव कुमार