धोना या पोंछना जानें पेशाब के बाद योनि को साफ करने का क्या है सही तरीका?

आज हम आप को प्राइवेट पार्ट की देखभाल और योनि की सफाई से जुड़ी कुछ बातें बताने जा रहे है, सबसे पहले तो बात करते है पेशाब करने के बाद योनि की सफाई की, तो बेहतर क्या है- पानी से धोना या टिशू पेपर से पोंछना.

-Learn to wash or wipe, what is the right way to clean the vagina after urination?- अक्सर महिलाएं अपने चेहरे और हाथ पैर का खयाल तो रखती है लेकिन अपने शरीर के सबसे जरुरी हिस्से यानी की प्राइवेट पार्ट की देखभाल करना भूल जाती है. तो आज हम आप को प्राइवेट पार्ट की देखभाल और योनि की सफाई से जुड़ी कुछ बातें बताने जा रहे है. सबसे पहले तो बात करते है पेशाब करने के बाद योनि की सफाई की, तो बेहतर क्या है- पानी से धोना या टिशू पेपर से पोंछना. हम में से कई महिलाओं को प्राइवेट पार्ट की हाईजीन के बारे में मालूम नहीं होता है. जब आप पेशाब करने के बाद अपने आप को साफ नहीं करती हैं, तो आपके प्यूब्स में रुकी हुई बूंदें आपके अंडरवियर में गिर जाती हैं. इससे दुर्गंध आती है. इसके अलावा, यह आपके अंडरवियर में बैक्टीरिया को भी जन्म देता है, जिससे यूरिनरी ट्रैक्ट संक्रमण (UTI) का खतरा बढ़ स‍कता है. पेशाब करने के तुरंत बाद सफाई करने से वह खतरा कम हो जाता है.

टिशू पेपर से पोंछना ही सही
विदेशों में महिलाएं हमेशा खुद को साफ करने के लिए टॉयलेट पेपर का उपयोग करती रही हैं. यह नमी को अवशोषित करने का एक शानदार तरीका है. चूंकि नम सतह बैक्टीरिया के लिए एक केंद्र हो सकती है, जब सूखी और स्वच्छ योनि की बात आती है, टॉयलेट पेपर शानदार ढंग से काम करता है.

ये भी पढ़ें - Anti Hair Fall Shampoo :- इन Anti hair fall shampoo के इस्तेमाल से अपने बालों का टूटना कम कर सकेंगे

लेकिन, टॉयलेट पेपर न केवल भारी मात्रा में फ्रिक्शन उत्पन्न करता है, बल्कि आपकी त्वचा पर कागज को लगातार रगड़ने से कुछ महिलाओं में योनि की जलन और त्वचा की संवेदनशीलता भी हो सकती है. इसके अलावा, यह बैक्टीरिया के प्रसार को भी बढ़ा सकता है, अगर इसका ठीक से उपयोग न किया जाए.

यूरिन के बाद धोना चाहिए?
आपको बता दें कि प्राइवेट पार्ट की सफाई के लिए पानी बिल्‍कुल सही विकल्‍प है. प्राइवेट पार्ट में बैक्टीरिया के प्रसार को भी रोकता है. यह प्रत्यक्ष हाथ के संपर्क से भी बचाता है, इसलिए यह अधिक स्वच्छ है. लेकिन बात यही खत्म नहीं होती. मूत्र हो या पानी- अपने इंटिमेट क्षेत्र को गीला छोड़ना एक बुरा विचार है. इसलिए, सुनिश्चित करें कि आप पानी का उपयोग करने के बाद तौलिया से इसको सुखा लें.

पोंछना या धोना, क्‍या है सही!
अब जब आप पूरी सच्चाई जानती हैं, तो आप सही और उपयोगी विकल्प चुन सकती हैं. एक ओर टॉयलेट पेपर अपने आप को साफ करने का एक सुविधाजनक तरीका है. खासकर यदि आप सार्वजनिक शौचालय का अक्सर प्रयोग करते हैं. लेकिन दूसरी ओर, पानी सफाई का सबसे प्रभावी तरीका है और यह सुनिश्चित करता है कि योनि साफ हो जाए. तो दोनों का तालमेल बिठा कर अपनी योनि को उच्चतम सफाई प्रदान करना ही समझदारी है.-Learn to wash or wipe, what is the right way to clean the vagina after urination?-

Akshay Kumar: फोन चार्ज करने की कोशिश में अक्षय कुमार को मिला सरप्राइज, जैसे ही लगाया फोन का चार्जर…

Love Triangle: दो पक्के दोस्तों को एक ही लड़की से हुआ प्यार, अब दोनों के बच्चों की मां बनेगी महिला

ये भी पढ़ें - Hair mask for dull hairs : आपके बेजान बालों में जान डाल देंगे ये चमत्कारी और आसान  हेयर मास्क

ये भी पढ़ें - How to cure cracked heels: ये चमत्कारी नुस्खे आपकी एड़ियों को बना देंगे सॉफ्ट – सॉफ्ट

ये भी पढ़ें - Benefits of Neem Leaves Hindi: नीम की पत्तियां दिला सकती है आपको हर बीमारी से छुटकारा

Leave a Comment