#WorldMentalHealthDay: ये बातें सच है तो, आज से शुरु करें अपनी मेंटल हेल्थ पर वर्क

वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे क्या है, कब मनाया जाता है, लक्षण, उपचार, जानें ज़रुरी बातें

इन दिनों सभी अपनी लाइफ में इतना व्यस्त है कि वो अपनी हेल्थ पर थोड़ा भी ध्यान नहीं दे पाते है, ऐसे में मेंटल हेल्थ जैसी समस्या भी सामने आने लगी है। जिसे लोग अक्सर नज़रअंदाज़ किया करते है। ऐसे में आज 10 अक्टूबर को  “वर्ल्ड मेंटल हेल्थ” डे पर इस बारें मेंं बात करना जरुरी हो जाता है कि आम लोग जो अपनी डेल्ही की लाइफ में इतना व्यस्त चल रहे है, वो अपनी मेंटल हेल्थ को लेकर कितना परेशान है या कितना ध्यान रखते है।

आपको बता दें, कि #Worldmentalhealthday 10 अक्टूबर को मनाया जाता है। साल 1992 में इस दिन की शुरुआत हुई थी। जिसे वर्ल्ड  फेडरेशन फॉर मेंटल हेल्थ ने शुरु किया था। अलग-अलग प्रकार के मानसिक विकारों के प्रति लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से इसे मनाया जाता है। अपनी बीज़ी लाइफ में आमतौर लोग अपनी मेंटल हेल्थ पर ध्यान नहीं दे पाते है ऐसी बहुत सी चीजें है जिसे लोग नज़र अंदाज कर देते है। ऐसे में वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे के मौके पर इंस्टीट्यूट ऑफ ह्यूमन बिहवियर एंंड एलाएड साइंसेस के वरिष्ठ मनोचिकित्सक डॉ. ओमप्रकाश के माध्यम से कई सवाल सामने आए है। जिन सवालों के जवाब अगर हां है, तो आपका ज़रुरी है कि मेंटल चैकअप हो और उसपर वर्क करें।

पहला सवाल, कि क्या आपकी नींद, भूख और सोचने का तरीका बदल गया है?

दूसरा सवाल, कि क्या आपने लोगों से मिलना कम कर दिया है?

तीसरा सवाल,कि क्या आपने अपनी हॉबीज को कम समय देना शुरु कर दिया है?

चौथा सवाल, कि क्या आपको अकेले रहना अच्छा लगने लगा है और भविष्य से कोई उम्मीद नहीं रखते है?

पाचंवा सवाल,कि क्या आपको ऐसा लगता है कि आपका मूड अचानक कभी ज़रुरच से ज्यादा खुश और कभी उदास हो जाता है?

छठा सवाल, कि क्या आपको अपनी एकाग्रता में कमी महसूस होने लगी है, आप किसी चीज़ में कंसन्ट्रेट नहीं कर पा रहे है?

सातवां सवाल, कि क्या आप पहले से ज्यादा रोने लगे है, बार-बार ज्यादा रोने का मन करता है?

आठवां सवाल, कि क्या आपकी याद्दाश्त पहले से कमजोर हो गई है और चीजें समझने में मुश्किल होने लगी है?

नौवां सवाल, कि क्या आप लोगों से बात करने में अब नर्वस महसूस करते है?

ये सभी चीजें अगर आपके साथ हो रही है तो, आप इन चीजों को फील कर रहे है तो, ये एक माध्यम है समझने की आप मेंंटल हेल्थ से झूज रहे है और ज़रुरी है कि आप इस पर वर्क करें, अपनी मेंटल हेल्थ पर ध्यान दें, डाइट में बदलाव लाएं। ताकि, आपकी मेंटल एक्टिवीटी तेज़ होने लगें । आपकी याद्दाश्त बढ़े और चीजों को आप आसानी से समझ सकें और हैंडल कर लें।

हालांकि, आज के समय में लोग इन बातों पर ज्यादा ध्यान नहीं देते है पर ज़रुरी है कि आप इस पर वर्क करें और चीजों को बेहतर तरीके से हैंडल करें। क्योकि आगे चलकर ये सभी चीजें आपकी लाइफ को खराब करती है। जिससे आपके व्यवहार में परिवर्तन भी आने लगता है। बता दें, कि मेंटल हेल्थ से बचने के लिए आप हेपीनेस क्लास भी लें सकते है। इतना ही नहीं, एक्सट्रा एक्टिवीटी में भी पार्ट ले सकतें है। जिससे आपके व्यवहार में बदलाव आता है और आप मेंटली सही वर्क करते है।

Leave a Comment