Women’s Day Special: प्रियंका चोपड़ा की ज़िन्दगी से महिलाएं सीखे ये लाइफ लेसन !

आज हम आपको प्रियंका चोपड़ा की ज़िन्दगी के कुछ ऐसे लाइफ लेसन के बारे में बताएँगे, जिससे आज के समय की हर महिला को सीख लेनी चाहिए।

Women’s Day 2021: प्रियंका चोपड़ा बॉलीवुड की सबसे सफल अभिनेताओं में से एक हैं, जिनकी अदाकारी और बेहतरीन स्वाभाव ने सबके दिल में जगह बना ली है। प्रियंका का जन्म 18 जुलाई 1982 को बिहार के जमशेदपुर में हुआ था, उनके माता पिता दोनों ही भारतीय सेना में चिकित्सक थे। आज भारत देश में प्रियंका  सबसे लोकप्रिय हस्तियों में से एक हैं। प्रियंका ने एक भारतीय अभिनेता और गायिका के रूप में कई फिल्मों और टीवी ड्रामा में काम किया हैं। अभिनेता मिस वर्ल्ड 2000 पेजेंट की विजेता भी हैं। इसके अलावा, अभिनेता ने एबीसी थ्रिलर सीरीज क्वांटिको में भी काम किया हुआ है। इन सभी उपलब्धियों के अलावा, प्रियंका ने राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और पद्म श्री पुरस्कार भी जीता है। आज के लेख में हम आपको प्रियंका चोपड़ा की ज़िन्दगी के कुछ ऐसे लाइफ लेसन के बारे में बताएँगे, जिससे आज के समय की हर महिला को सीख लेनी चाहिए।

प्रियंका चोपड़ा की ज़िन्दगी से सीखे ये लाइफ लेसन :

बदलाब से कभी न घबराये

प्रियंका चोपड़ा जोनस की ज़िन्दगी

भारतीय सेना के डॉक्टर की बेटी होने की वजह से प्रियंका चोपड़ा शुरुवात में क्रिमिनल साइकोलॉजी अपनाना चाहती थीं। लेकिन जब उन्होंने 2000 में मिस वर्ल्ड पेजेंट जीता, इस विजय ने उनका जीवन पूरी तरह से बदल दिया। उन्होंने 2003 में बॉलीवुड में डेब्यू किया और आज वो 60 से ज़्यादा फिल्में कर चुकी हैं। 2015 की शुरुआत में, प्रियंका ने अपना प्रोडक्शन हाउस पर्पल पेबल पिक्चर्स लॉन्च किया, जो रीजनल लैंग्वेजेज में फिल्में बनाता है। उसी साल, उन्होंने अमेरिकी टेलीविजन में ड्रामा-थ्रिलर सीरीज क्वांटिको में प्रवेश किया। इन सबके अलावा, उन्होंने गरीब और ज़रूरतमंद बच्चों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए यूनिसेफ इंडिया के साथ भी काम किया। प्रियंका की इस बात से यह सीख मिलती है कि, जब आप एक ऐसे रस्ते पर हैं जो परिचित नहीं है तो उस समय केवल अपने मन की सुने। यह आपको एक ऐसे जीवन में ले जा सकता है जिसका आपने सपना भी नहीं देखा होगा।

हर समस्या का खुल के सामना करें

प्रियंका चोपड़ा की ज़िन्दगी

जब प्रियंका एक अमेरिकी स्कूल में पढ़ रही थी, तो उन्हें वह भेदभाव का सामना करना पड़ा था। इसके अलावा, उन्होंने इस बात भी खुलासा किया कि, जब वो शुरुआत में हॉलीवुड ऑडिशंस देती थी तब भी उनके साथ उनके रंग को लेकर काफी भेदभाव होता था। प्रियंका ने 2013 में कैंसर के कारण अपने पिता को खो दिया था, लेकिन भी अभिनेता ने अपने दर्द को छुपा कर और मुस्कुराकर अपनी अदाकारी जारी राखी। इन सभी घटनाओ के अलावा, जब वो सिंगर निक जोनास के साथ शादी के बंधन में बंधी थी तब भी लोगो ने उनकी उम्र ज़्यादा होने के कारण उनको काफी ज़्यादा ट्रोल किया था। उनकी इन घटनाओ ने हर महिला और लड़की को मजबूत होने के लिए प्रेरित किया है।

अपने आपको कभी मत बदलो

प्रियंका चोपड़ा जोनस की ज़िन्दगी

इतनी कामियाबी और शौहरत मिलने के बाद भी प्रियंका अपनी जड़ों से हमेशा जुडी रही। चाहे बॉलीवुड हो या हॉलीवुड उन्होंने वो कभी भी इस बात को नहीं भूली के वो कौन है और वो कहा से आई हैं। उनकी ये बात यही सीख देती है कि, आप चाहे जितनी बुलंदियों तक पहुंच जाएँ लेकिन आप कहा से हैं इस इस बात को कभी न भूले।

 

International  women’s day के मौके पर हमने आपको प्रियंका चोपड़ा की ज़िन्दगी से मिल ने वाली कुछ सीख के बारे में बताया है। हर महिला उनके जीवन से मिल रहे कुछ बेस्ट लाइफ लेसन को अपनाकर सफल हो सकती है।